उज्ज्वला योजना

उज्ज्वला योजना

उज्ज्वला योजना

 

संदर्भ

      • आरटीआई में जानकारी मिली कि ग्रामीण परिवारों को एलपीजी कनेक्शन उपलब्ध कराने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना ने 2019 के आम चुनाव से ठीक पहले नए वितरण में तेजी दर्ज की गई ।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना 1.0

      • उज्ज्वला योजना 0 के अंतर्गत, गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों की 5 करोड़ महिला सदस्यों को एल.पी.जी. कनेक्शन उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया था।
      • इसके बाद, अप्रैल 2018 में इस योजना का विस्तार कर इसमें 7 और श्रेणियों की महिलाओं को शामिल किया गया।
      • अनुसूचित जाति एवं जनजाति, वनवासी, अति पिछड़ा वर्ग, द्वीप समूह, चाय बागान, प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के लाभार्थी, अंत्योदय अन्न योजना के लाभार्थी

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना 2.0

      • इसका उद्देश्य उन प्रवासियों को अधिकतम लाभ प्रदान करना है जो दूसरे राज्यों में रहते हैं और उन्हें अपने पते का प्रमाण प्रस्तुत करने में कठिनाई होती है।
      • अब उन्हें लाभ उठाने के लिये केवल “सेल्फ डिक्लेरेशन” देना होगा।

विशेषताएँ

      • इस योजना में बीपीएल परिवारों को प्रत्येक एलपीजी कनेक्शन के लिये 1600 रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।
      • एक जमा-मुक्त एलपीजी कनेक्शन के साथ उज्ज्वला 0 लाभार्थियों को पहली रिफिल और एक हॉटप्लेट निःशुल्क प्रदान किया जाएगा।

    लक्ष्य

    • उज्ज्वला 0 के तहत मार्च 2020 तक गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) के परिवारों की 50 मिलियन महिलाओं को एलपीजी कनेक्शन प्रदान करने का लक्ष्य था। हालाँकि अगस्त 2018 में सात अन्य श्रेणियों की महिलाओं को योजना के दायरे में लाया गया था, इनमें शामिल हैं:
    • अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति, प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) के तहत, अंत्योदय अन्न योजना (AAY) के लाभार्थी, वनवासी, सबसे पिछड़े वर्ग, चाय बागान और द्वीप समूह।
    • उज्जवला 0 के तहत लाभार्थियों को अतिरिक्त 10 मिलियन एलपीजी कनेक्शन प्रदान किये जाएंगे।
    • सरकार ने 50 ज़िलों के 21 लाख घरों में पाइप से गैस पहुँचाने का भी लक्ष्य रखा है।

MCQ for Prelims

Your content goes here. Edit or remove this text inline or in the module Content settings. You can also style every aspect of this content in the module Design settings and even apply custom CSS to this text in the module Advanced settings.

Ask a Question

Pin It on Pinterest